Friendship day in hindi: Friendship day भारत में अगस्त माह के पहले रविवार को मनाया जाता है चूँकि इसका नाम ही Friendship day है, इस कारण Friendship day को लोग अपने दोस्तों के साथ ही सेलिब्रेट करते हैं, पार्टी करते हैं, घूमने जाते हैं, वगैरा-वगैरा. उस व्यक्ति के लिए इस दिन का बहुत ही खास महत्व है जिनका अपना कुछ दोस्त रहा हैं. यह फेस्टिवल बिल्कुल उसी तरह है जिस तरह पिता के लिए Fathers day माँ के लिए Mothers day होता है. इस दिन लोग अपने दोस्तों को गिफ्ट दिया करते हैं साथ में फिल्म वगैरा भी देखने जाते हैं.

Friendship day in hindi
Friendship day in hindi

Friendship day का इतिहास

Friendship day दुनिया के में बहुत सारे दोस्तों देशों में मनाया जाता है लेकिन इसको पहली बार पराग्वे देश में 1958 को इंटरनेशनल Friendship day के रूप में पास किया गया था लेकिन जब 1930 में जॉयस हॉल के द्वारा हॉलमार्क कार्ड बनाया गया था. तब से यह लोगों के बीच फैलते गया. बाद में संयुक्त राष्ट्र ने Friendship day, 30 जुलाई को घोषित किया. भारत में यह अगस्त के पहले रविवार को मनाया जाता है. 1998 में संयुक्त राष्ट्र के पूर्व महासचिव कोफी अन्नान और उनकी पत्नी अन्नान को यूएन में फ्रेंडशिप के राजदूत के रूप में घोषित किया गया था.संयुक्त राष्ट्र संघ की सभा द्वारा 30 जुलाई को Friendship day आधिकारिक तौर पर घोषित है लेकिन फिर भी दुनिया के अलग-अलग देशों में अलग-अलग दिन को Friendship day मनाया जाता है. दक्षिण एशियाई देशों में भारत सहित वह रविवार जो अगस्त का पहला सप्ताह होता है को मनाया जाता है. जबकि ओहायो के अर्बलिन में Friendship day 8 अप्रैल को मनाया जाता है.

Friendship day का शुरुआत होने का कारण

Friendship day in hindi: Friendship day शुरू होने के पीछे एक दिलचस्प कहानी है. साल 1935 में अमेरिकी सरकार ने एक व्यक्ति को मौत की सजा दी थी जिसके कारण वह आदमी मर गया. उसके मरने के बाद उसका एक मित्र इस घटना के कारण काफी दुखी हुआ और इसी दुखी में उसने अपनी दोस्त की याद में अपनी जान दे दी. अपने दोस्त के इसी बलिदान की वजह से वह काफी चर्चित हो गया. जिस कारण सरकार ने भी आधिकारिक रूप से इस को मनाने का निर्णय लिया. शुरुआती दिनों में Friendship day केवल पश्चिमी देश या यूरोपीय देशों में ही ज्यादा ख्याति प्राप्त था लेकिन आज के दिनों में Friendship day एशिया के बहुत सारे देशों में भी इसका सेलिब्रेशन होता है.

 Friends से संबंधित

 जिस इंसान के साथ वह इंसान जिसके साथ हमारा खून का संबंध भी नहीं होता फिर भी दुनिया में सबसे अजीज होता है वह मित्र है

 वह इंसान जिसके साथ बात करते-करते थक जाओ फिर भी मन ना भरे वह मित्र है

 वह इंसान जो आपकी छोटी सी बात पर भी खुलकर हाथ हंसने में साथ दें वह मित्र है

 वह इंसान जिसके साथ फीकी चाय भी बेहतरीन लगे वाह मित्र है

 संक्षिप्त में अगर बोला जाए तो वह व्यक्ति जो मुसीबत के वक्त आपका साथ निभाए वह इस दुनिया में आपका सच्चा मित्र है.

Also Read

Rahul Gandhi Biography in hindi

Rajiv Gandhi Biography in hindi

The Alchemist

Introduction of Computer with Question Bank

Subscribe

[email-subscribers-form id=”1″]