Arctic Movie Story in hindi

0
(0)

Arctic Movie Story in hindi

Hollywood Movie Stories in hindi

दोस्तों आर्कटिक के बारे में मैं कुछ जानकारी देना चाहूंगा। आर्कटिक का मौसम साउथ एशिया जैसा बिल्कुल भी नहीं होता। बल्कि वहां पर तो गर्मियों में पूरे दिन सूरज निकला होता है। और सर्दियों में सूरज निकलता ही नहीं है।आर्कटिक का तापमान इतना कम रहता है कि वहां हर समय बर्फ जमी रहती है। हमारी कहानी का नाम है आर्कटिक। इस कहानी में टोगो नाम का एक इंसान होता है। जो किसी वजह से अपना प्लेन क्रैश होने के बाद वह आर्कटिक में फंस जाता है। उस आदमी को बिल्कुल भी जानकारी नहीं होती, कि वह आर्कटिक में किस जगह फंसा है। उसे वहां से निकलने के लिए किस दिशा में जाना पड़ेगा। वह वहां से बाहर निकलने की कई बार कोशिश भी करता है। पर रास्ता ना मिलने पर वह वापस आ जाता है। टोगो के प्लेन क्रैश होते हुए काफी दिन हो चुके हैं। वह अभी तक यहां पर किसी तरह जिंदा होता है। टोगो वहां की जानलेवा ठंड से बचने के लिए अपने प्लेन में ही रहता है। वह वहां पर खाने के लिए मछलियां पकड़ना शुरू करता है।

Arctic Movie Story in hindi

Hollywood Movie Stories in hindi

अपने आसपास के एरिया का एक कागज पर नक्शा बनाने लगता है। वह वहां के सबसे ऊंची चोटी पर अपने रेडियो के माध्यम से किसी को संदेश भेजने की कोशिश करता है। ताकि कोई उसके इमरजेंसी संदेश को सुन ले तो उसे बचाने के लिए यहां पर आ जाए। यह टोगो का रूटीन बन चुका था। वह हर दिन सुबह-सुबह मछली पकड़ने के लिए निकलता। जितनी मछलियां उसे खानी होती थी वह खा लेता था, और बाकी मछलियों को स्टोर करके एक बॉक्स के अंदर बर्फ में रख देता था। उसके बाद वह उस जगह का नक्शा बनाता था। और वहां की पहाड़ी पर जाकर अपने रेडियो से संदेश भेजता था। एक दिन वह रोज की तरह मछलियां पकड़ने निकलता है। तभी वह देखता है कि उसके स्टोर बॉक्स को खोल कर किसी ने सारी मछलियां खाली है। वह जब आसपास देखता है तो उसे जानवर के पैरों के निशान दिखाई पड़ते हैं। तभी वह डरकर अपने प्लेन में घुस जाता है। थोड़ी देर के बाद वह वापस बाहर आता है। और अपने रेडियो बिकम से इमरजेंसी संदेश भेजता है। तभी वहां वहां पर मौजूद एक पोलर बियर को देखता है। वह पोलर बियर उससे काफी दूर होता है। लेकिन फिर भी वह पोलर बियर टोगो को नोटिस कर लेता है। वह पोलर बियर अपने रास्ते पर चलता रहता है। टोगो यह बात जानकर काफी घबरा जाता है कि उसके आसपास एक पोलर बीयर है। क्योंकि पोलर बियर काफी ताकतवर जानवर होते हैं। यह दुनिया के सबसे बड़े भालू होते हैं जो बर्फीले इलाकों में रहते हैं। टोगो अपने रेडियो बिकम से दोबारा इमरजेंसी संदेश भेजता है। जब वह संदेश भेज रहा होता है, तो उसके रेडियो बीकन में एक ग्रीन लाइट जलती है, इसका मतलब है कि किसी ने उसके संदेश को रिसीव कर लिया है।

Arctic Movie Story in hindi

Hollywood Movie Stories in hindi

वह अपने बिकन को और तेज घुमाने लगता है। तभी उसे वहां पर एक हेलीकॉप्टर की आवाज सुनाई देती है। वह तेज के चिल्लाने लगता है, कि मैं यहां पर हूं मुझे बचाओ। वह हेलीकॉप्टर वहां चलती आंधी की वजह से बेकाबू हो जाता है और क्रश कर जाता है। जो हेलीकॉप्टर लोगों को बचाने आया होता है वह खुद ही क्रैश हो जाता है। इसके बाद टोगो उस हेलीकॉप्टर की तरफ भागकर जाता है। वह देखता है कि उसके अंदर पायलट की मौत हो चुकी है। पर उस प्लेन के अंदर एक लड़की भी होती है। जो कि जिंदा होती है। पर उसे काफी चोटें आई होती हैं। टोगो उस लड़की को निकाल कर अपने प्लेन में ले जाता है। लेकिन वह लड़की काफी जख्मी हो गई होती है, और बेहोशी की हालत में होती है। टोगो उस लड़की की अच्छे से केयर करता है और उसका इलाज करता है। टोगो उस हेलीकॉप्टर में वापस जाता है, और वहां पर कुछ जरूरत का सामान ढूंढता है। उसे वहां पर खाने के लिए नूडल्स और गैस स्टोव मिलता है। वहां पर उसे कुछ मेडिकल इक्विपमेंट भी मिलते हैं। और आर्कटिक के पुरे एरिया का मैप भी मिलता है। उसे वहां पर एक ट्रॉली भी मिलती है, जिसके माध्यम से वह किसी सामान को बर्फ के ऊपर इधर से उधर ले जा सकता था। वह अपने प्लेन में वापस आता है, और उस गैस स्टोव पर मछली पकाता है। वह उसमें कुछ नूडल्स से मिला देता है। काफी दिनों बाद कुछ गर्म चीज खाता है। वह लड़की को भी फीस और नूडल्स खिलाने की कोशिश करता है। लेकिन अभी भी उस लड़की की हालत काफी खराब होती है। अभी भी वह बेहोशी के हालत नहीं होती है। टोगो को उस लड़की के पास से एक फोटो मिला होता है।जिससे उसे पता चल जाता है, कि जो हेलीकॉप्टर का पायलट मरा है वह इसका पति है। टोगो उस लड़की से कहता है, कि तुम चिंता मत करो तुम्हें यहां पर बचाने के लिए कोई ना कोई जरुर आएगा। अगले दिन से टोगो अपना रूटीन दोबारा चालू करता है। सुबह मछली पकड़ता और वापस आकर उस लड़की का इलाज करता। दरअसल उस लड़की के पेट में भी एक गहरा घाव रहता है।

Arctic Movie Story in hindi

Hollywood Movie Stories in hindi

जिस के इलाज के लिए टोगो को काफी दवाइयां चाहिए होती है, पर वहां पर दवाइयां मौजूद नहीं होती। जिस वजह से उस लड़की की हालत और भी ज्यादा खराब हो रही होती है। उस हेलीकॉप्टर के क्रैश को भी काफी दिन हो गए होते हैं। वहां पर उन्हें बचाने के लिए कोई भी नहीं आता। टोगो यह निर्णय लेता है, कि इस लड़की की जान बचाने के लिए मुझे इंसानों की बस्ती की तलाश करनी पड़ेगी। यह उस नक्शे को निकालता है जो उसे हेलीकॉप्टर से मिला होता है। वह उस नक्शे को अपने बनाए हुए नक्शे से मैच करता है। वह अपनी लोकेशन का पता लगाता है। वह यह भी पता लगा लेता है, कि उसके पास का रिफ्यूजी कैंप किस जगह है। उसे पता चल जाता है कि उसके पास का रिफ्यूजी कैंप तीन-चार दिन की दूरी पर है। वह तय कर चुका है कि चाहे कुछ भी हो जाए उसे इस लड़की की जान बचानी है। यहां पर टोगो के अंदर एक अलग हीमत देखने को मिलती है। वह कई सारे मछली के जाले लगाता है और कई सारी मछलियां पकड़ता है। जिन्हें वो रास्ते में खा सके। एक खाली केन में पानी भर लेता है। वह सारा सामान ट्रॉली में रखता है, और उस लड़की को भी ट्रॉली में लिटा देता है। वह उस प्लेन को छोड़कर वहां से निकल पड़ता है। वह जाते जाते हेलीकॉप्टर के ऊपर लिख देता है कि अभी भी 2 लोग जिंदा है। वह नॉर्थ साइड में गए हैं।टोगो पूरा दिन उस ट्रॉली को खींचता हुआ जाता, और शाम होते हैं एक गर्म जगह पर आराम करता। वह उस गैस स्टॉव पर मछलियां पकाकर खाता। और उस लड़की को भी खिलाता। इसके बाद वह थोड़ा सो भी लेता था। दूसरे दिन उसके रास्ते में एक पहाड़ आता है। जिसके बारे में उस नक्शे पर भी कुछ इंडिकेशन नहीं होती। टोगो सबसे पहले सारे सामान को ऊपर लेकर जाता है। इसके बाद वह उस लड़की को ऊपर खींचने की कोशिश करता है। वह काफी कोशिश करने के बाद भी उस लड़की को ऊपर नहीं खींच पाता है। वह उस पहाड़ के दूसरी तरफ देखता है तो उधर बिल्कुल ही क्लियर रास्ता है। जिसको पार करने के बाद वह बेस कैंप तक आसानी से पहुंच सकता है। वह फिर से कोशिश करता है। वह उस लड़की को ऊपर खींचने के लिए अपना पूरा जोर लगा देता है। उसकी हालत भी खराब होने लगती है। लेकिन वह उस लड़की को ऊपर नहीं खींच पाता है। टोगो के पास दो रास्ते होते हैं या तो वह समान को लेकर निकल जाए। और उस लड़की को ऐसे ही मरने के लिए छोड़ दें। या फिर उस लड़की को लेकर दूसरे रास्ते से जाएं। जो कि काफी मुश्किल रास्ता है। उस रास्ते से उसे बेस तक पहुंचने के लिए 5 दिन और लगेगा।

Arctic Movie Story in hindi

Hollywood Movie Stories in hindi

वह डिसाइड करता है कि उस लड़की को वह साथ लेकर जाएगा और उसकी जान जरूर बचाएगा। टोगो उस लंबे और मुश्किल रास्ते पर निकल पड़ता है। उस रास्ते पर तेज बर्फीली हवाएं चल रही होती हैं। इसके बाद शाम हो जाती है। टोगो आराम करने के लिए रुकता है। दरअसल उसे वहां पर एक गुफा मिल जाती है और वह उसी गुफा में आराम करता है। वह वहां पर अपने लिए और उस लड़की के लिए मछली पकाता है। वह जब उस लड़की को मछली खिलाता है तो उसकी कंडीशन काफी खराब हो चुकी है। वह मछली नहीं खा पाती है। वह उस लड़की को पानी पिलाता है। टोगो भी अपना ध्यान स्टॉव जला कर सो जाता है। ज्यादा देर तक गैस स्टॉव जलने की वजह से उसकी गैस खत्म हो चुकी है। वह गैस स्टोव बंद हो जाता है। जब टोगो सो रहा होता है, तो उसे किसी के गुराने की आवाज सुनाई पड़ती है। उसके एकदम से आंख खुलती है। दरअसल उस गुफा के बाहर एक पोलर बियर होता है। जिसको उस मछली की महक आ गई होती है, जो कि टोगों ने पकाई होती है। पोलर बीयर उस मछली को ढूंढ रहा होता है। टोगो वहां पर एक दम शांत हो जाता है। ताकि भालू को उनकी आवाज ना आए और वह उन्हें ढूंढ ना पाए। तभी वह लड़की खास देती है। वह भालू उन पर हमला कर देता है। उस गुफा के अंदर आने का रास्ता काफी छोटा होता है। वह भालू उस गुफा के अंदर घुस नहीं पाता। भालू उस गुफा के अंदर घुसने की पूरी कोशिश करता है। भालू उस गुफा के मुंह को खोदने लगता है, और चौड़ा करने लगता है। यहां पर टोगों की हालत खराब हो जाती है। वह अपने पास मौजूद बर्फ की कुल्हाड़ी से उसे डरा कर भगाने की कोशिश करने लगता है। लेकिन उस चीज का भालू पर कोई भी असर नहीं पड़ता। यहां पर लोगों के पास एक फ्लेयर गन होती है। जिसे वह जलाकर भालू की तरफ कर देता है।उसमें से निकली आग की चिंगारी से भालू डर कर भाग जाता है। इसके थोड़ी देर बाद टोगो अपनी जर्नी फिर से स्टार्ट करता है। जब वह ट्रॉली को खींच रहा होता है तभी वहां पर काफी तेज बर्फीली हवाएं चलने लगती हैं। बर्फीली हवाओं से बचने के लिए टोगो वहीं पर आराम करने लगता है। वह उस ट्रॉली को दीवार की तरह रख देता है और बर्फीली हवाओं से बचने की कोशिश करता है।

Arctic Movie Story in hindi

Hollywood Movie Stories in hindi

वह लड़की के साथ स्लीपिंग बैग के अंदर सो जाता है। यहां पर टोगो की हालत बहुत खराब होने लगती है। वह बर्फीली हवाओं की वजह से धीरे-धीरे जमने लगता है। उसने अपने हाथों में काफी मोटे मोटे ग्लब्स पहन रखे हैं। उसके बावजूद भी उसकी उंगलियां जमने लगती हैं। वह आंधी रुकने के बाद फिर से निकल पड़ता है। इसके बाद वह एक जगह रुकता है और अपने कपड़े को जला देता है। वह आपके ऊपर थोड़ा पानी पिघला कर पीता है। वह थोड़ा पानी उस लड़की को भी पिलाता है। उस लड़की की हालत काफी खराब होने लगती है। टोगों को लगता है, कि वह उस लड़की को नहीं बचा पाएगा। टोगो यह डिसाइड करता है, कि वह इस लड़की को यहीं पर छोड़ देगा और आगे निकल जाएगा। वह यहां से अकेले निकल जाता है। थोड़ी दूर आगे चलकर एक गड्ढे में गिर जाता है। गड्ढे में गिरने की वजह से उसके पैर में काफी चोट लगती है। एक गहरा घाव हो जाता है। वह किसी तरह काफी मेहनत करके उस गड्ढे से बाहर निकलता है। वापस उस लड़की के पास जाता है। उस लड़की की हालत थोड़ी सी ठीक हो गई होती है। वह टोगो से हेलो कहती है। अब यहां पर टोगो रोने लगता है। वह उस लड़की को यहां पर अकेला छोड़ने के लिए माफी मांगता है। वह उस लड़की को लेकर फिर से आगे का सफर जारी करता है। वह डंडे के सहारे चल रहा होता है, और उस ट्रॉली को भी खींच रहा होता है। उसका पिघलाया हुआ पानी भी खत्म हो चुका होता है। जो थोड़ी बहुत पानी की बूंदे बच रही होती है वह उस लड़की को पिला देता है। खुद बर्फ खा कर फिर से चलने लगता है। धीरे-धीरे टोगो के शरीर की ताकत खत्म होने लगती है। लेकिन फिर भी वह रुकता नहीं है। थोड़ी दूर जाने के बाद उसे एक हेलीकॉप्टर की आवाज आती है।

Subscribe

वह देखता है तो उसे काफी दूर एक हेलीकॉप्टर दिखाई पड़ता है। वह फिर से जोर-जोर से चिल्लाने लगता है। लेकिन वह हेलीकॉप्टर इतना दूर होता है कि टोगो की आवाज वहां तक नहीं पहुंच पाती। टोगो अपने पास मौजूद एक फेलेयर जलाता है। लेकिन उस हेलीकॉप्टर के पायलट का उस फलेयर पर भी ध्यान नहीं जाता। इसके बाद टोगो अपनी जैकेट उतार देता है और उसमें आग लगा देता है। अपने डंडे से उस जैकेट को हिलाने लगता है। वह साथ-साथ जोर-जोर से चिल्लाने लगता है, कि है मैं यहां हूं मुझे बचाओ।

इसके बाद टोगो देखता है कि वहां से हेलीकॉप्टर उड़ रहा है। और उस पहाड़ के पीछे की तरफ चला जाता है। और वह अब दिखना भी बंद हो जाता है। यहां पर टोगो हार मान चुका होता है। वह उस लड़की के बगल में लेट जाता है। उस लड़की का हाथ अपने हाथ में पकड़ कर कहता है कि इट्स ओके। जो भी उसे किस्मत में लिखा होता है, वह उसका इंतजार करने लगता है।इसके बाद यह दिखाया जाता है, कि वह हेलीकॉप्टर वापस आता है और उनके पीछे लैंड करता है। और इस तरह से दोनों की जान बच जाती है। इस मूवी को देखकर हमें इतना पता चलता है, कि दुनिया में कुछ भी नामुमकिन नहीं है।

How useful was this post?

Click on a star to rate it!

Average rating 0 / 5. Vote count: 0

No votes so far! Be the first to rate this post.

%d bloggers like this: